डीएसटी की कार्यवाही: मुठभेड़ के बाद पकड़ा गया इमरान कुंजड़ा

 डीएसटी की कार्यवाही: मुठभेड़ के बाद पकड़ा गया इमरान कुंजड़ा

उदयपुर पुलिस की स्पेशल टीम (डीएसटी) ने हिस्ट्रीशीटर और मोस्ट वांटेड अपराधी इमरान कुंजड़ा और उसके दो साथियों को राजसमन्द जिले के केलवा थाना क्षेत्र से मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार किया है.तीनो आरोपी इमरान कुंजड़ा, छोटा मेवाती उर्फ़ सरफ़राज़ और निसार मोहम्मद को अवैध हथियार सहित जंगलो से पकड़ा.

इमरान के खिलाफ थाना अम्बामाता में कई मामले दर्ज है.

पुलिस अधीक्षक डॉ राजीव पचार के निर्देशानुसार अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक गोपाल स्वरूप मेवाड़ा के नेत्रत्व में पुलिस उप अधीक्षक वृत्त नगर पश्चिम महेंद्र परिक, सुनील कुमार टेलर थानाधिकारी अम्बामाता, डॉ हनुवंत सिंह राजपुरोहित थानाधिकारी सूरजपोल, रामसुमेर मीणा थानाधिकारी हिरणमगरी और जिला स्पेशल पुलिस द्वारा टीम का घठन किया गया.

टेक्निकल अनुसन्धान और मुखबीर तंत्र से इमरान के राजसमन्द जिले में होने की सूचना मिली जिस पर टीम ने कई जगह दबिश दी. आज सुबह अपराधियों की लोकेशन मिलने पर ज़िला स्पेशल टीम ने पीछा किया तो तीनो आरोपी एक बाइक पर सवार हो राजसमन्द जिले के केलवा थाना क्षेत्र में गोमती नदी के पास सियाणा गाँव में मार्बल स्लरी इलाके में भाग गए.

पुलिस टीम द्वारा पीछा करने पर आरोपियों ने पुलिस पर फायरिंग की, पुलिस द्वारा जवाबी फायरिंग भी की गई. पुलिस ने बताया कि, कई घंटो की मशक्कत के बाद तीनो को जंगलो से पकड़ा. घटना में आरोपियों सहित कुछ पुलिसकर्मी भी चोटिल हुए.

पुलिस टीम: डॉ हनुवंत सिंह राजपुरोहित थानाधिकारी सूरजपोल, रामसुमेर मीणा थानाधिकारी हिरणमगरी, हेड कांस्टेबल विक्रम सिंह, योगेश, धर्मवीर सिंह, कांस्टेबल प्रह्लाद, शक्ति सिंह, किरण, रामजी लाल, उपेन्द्र सिंह, रविन्द्र सिंह, राम निवास, साइबर सेल से गजराज सिंह, लोकेश रायक्वाल और लोकेश गवारिया.

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *