Month: October 2020

इन्स्पिरेश्नल

उदयपुर के गोविन्द की “बिंदास” कहानी

हम में से कई लोग अस्थायी मुसीबतों से हार मान लेते है, बिना अपने और अपने परिवार का सोचे आत्म हत्या का फैसला तक कर देते है, शायद इसलिए तो नहीं कि हमें हमारी उम्मीदों और ज़रुरतो से ज्यादा मिल जाता है और फिर यदि कभी कही थोडा कम हो गया तो ज़िन्दगी से निराश […]आगे पढ़ें

इतिहास

हाथीपोल की खाई का दिलचस्प तथ्य

आज से क़रीब 50 साल पहले तक दिल्ली दरवाज़े से हाथीपोल तक शहरकोट मौजूद थी और अश्विनी बाज़ार नहीं बना था। पुराने शहर के अंदर जाने के लिये हाथीपोल के दरवाज़ों के अंदर से जाना आना होता था। इस पूरी क़रीब एक किलोमीटर लंबाई में शहर कोट से सटी एक खाई ( नहरनुमा खुदाई) लगभग […]आगे पढ़ें