उदयपुर में निर्मित “माही तत्व” को अब खादीउद्योग का मिला सपोर्ट, देश विदेश में होगा उपलब्ध

 उदयपुर में निर्मित “माही तत्व” को अब खादीउद्योग का मिला सपोर्ट, देश विदेश में होगा उपलब्ध

उदयपुर की वंदना वर्मा द्वारा पर्सनल केयर एवं होम केयर उत्पाद “माही तत्व” का उद्घाटन खादी एवं ग्रामोद्योग आयोग के चेयरमैन द्वारा अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर किया गया. यह मेवाड़ के लिए गर्व की बात है कि देश भर से 75 से ज्यादा महिला उद्यमियों में राजस्थान के मात्र 2 ब्रांड्स में से एक माही तत्व था.

प्राइम मिनिस्टर एम्प्लोयेमेंट जनरेशन प्रोग्राम के तहत सूक्ष्म लघु, मध्यम उद्यम मंत्रालय के अंतर्गत खादी एवं ग्रामोद्योग आयोग ने देश भर से महिलाओं द्वारा शुरू किये गए चुनिन्दा उत्पादों को चयनित किया.

प्रकृति संरक्षण और लोगो को हानिकारक केमिकल की जगह प्राकृतिक स्त्रोत से निर्मित उत्पाद उपलब्ध करवाने के उद्देश्य से वर्ष 2020 में वंदना वर्मा द्वारा माही तत्व की शुरुआत घर से की गई, अब माही तत्व अपनी उत्पाद यूनिट शुरू करने के साथ रोज़गार भी प्रदान करेगा.

वंदना वर्मा बताती है कि यह उनके द्वारा समाज और प्रकृति को कृतज्ञता के रूप में फिर से लौटाने की एक छोटी सी पहल है.

फाइनेंस में एमबीए और इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग करने के बाद लगभग दो दशको तक कॉर्पोरेट दुनिया में रहकर काम करते हुए वंदना वर्मा अपनी एक ही तरह की जीवन शैली से उब गई थी, अपनी सेहत और प्रकृति की तरफ आकर्षित होते हुए कुछ अलग करने की इच्छा हुई और माही तत्त्व का स्वरूप बना.

वंदना बताती है कि रसोई से बचे हुए खाद्य सामग्री जिसे हम वेस्ट समझ कर फेंक देते हुए उसी से उन्हें माही तत्व शुरू करने की प्रेरणा मिली. आज माही तत्त्व द्वारा प्राकृतिक संसाधनों से निर्मित दर्जनों पर्सनल केयर एवं होम केयर उत्पाद निर्मित किये जाते है.

वंदना वर्मा ने बताया कि माही तत्त्व के अब तक की उपलब्धियों में उनके भाई डॉ सुधीर वर्मा का सबसे बड़ा योगदान रहा।

माही तत्व के उत्पाद राजस्थान के अलावा केरला में तो उपलब्ध है, साथ ही ऑनलाइन अमेज़न और वेबसाइट पर भी अवेलेबल है. मंत्रालय से मिले सपोर्ट के बाद अब देश के अन्य शहरों तक माही तत्व आसानी से उपलब्ध होगा.

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *