कोई नहीं चाहता लॉक डाउन इसलिए कोरोना प्रोटोकॉल का सख्ती से करे पालन

 कोई नहीं चाहता लॉक डाउन इसलिए कोरोना प्रोटोकॉल का सख्ती से करे पालन

उदयपुर में बढ़ते कोरोना संक्रमण की स्थिति को लेकर कलक्टर चेतन देवड़ा की अगुवाई में आज शुक्रवार 9 अप्रैल को जिला प्रशासन द्वारा होटल, पर्यटन, व्यापारी संघ, परिवहन, पार्षद और समाज के प्रतिनिधियों से दिन भर चली बैठकों में यही सामने आया है कि शहर में लॉक डाउन की जगह कोरोना प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन करने और करवाने की ज़रूरत है.

कलक्टर ने अपील की है कि सभी मिलकर तय करें कि किस तरह से इस संक्रमण को रोकने के लिए अपनी-अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन करें  

यात्रियों से निगेटिव आरटीपीसीआर लेने के बाद ही प्रवेश दे

जिला कलक्टर ने निर्देश दिए कि प्रत्येक होटल व पर्यटन स्थल संचालक हर आने वाले व्यक्ति की थर्मल स्क्रीनिंग करें व आईडी लें, अन्य राज्य से आने वाले की निगेटिव आरटीपीसीआर मांगे, उन्हें मास्क पहनने, सोशल डिस्टेंसिंग की पालना करने जैसे कोरोना प्रोटोकॉल की पालना के लिए पाबंद करें और उसके बाद ही प्रवेश दे।  

…….

लापरवाह पर्यटक पर 15 मिनट में होगी कार्यवाही

कोई पर्यटक या यात्री निर्देशों की अवहेलना करता है तो तत्काल नजदीकी पुलिस स्टेशन या एडीएम सिटी को सूचित करें तो 15 मिनट के भीतर टीम पहुंचेगी व ऐसे लापरवाह पर्यटक या यात्री पर मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार किया जाएगा।

…….

परिवहन प्रतिनिधियों को एसपी के निर्देश: कोरोना गाइड लाइन का पालन करे, हमे सख्ती पर मजबूर न करे

जिला पुलिस अधीक्षक डॉ. राजीव पचार ने कहा है कि परिवहन साधनों के संचालन से जुड़े समस्त प्रतिनिधि यह सुनिश्चित करें कि हर वाहन का उपयोग करने वाला व्यक्ति कोरोना गाईडलाईन की पालना करें। बस, ट्रक, रिक्शा, जीप इत्यादि में बैठने वाला हर व्यक्ति मास्क का प्रयोग करें व सोशल डिस्टेंसिंग से बैठे।

एसपी डॉ. पचार शुक्रवार को यहां जिला परिषद सभागार में  रेल्वे, एयरपोर्ट, रोडवेज के साथ ट्रांसपोर्ट यूनियन, ट्रक यूनियन, बस यूनियन व टेम्पो यूनियन के प्रतिनिधियों की बैठक को संबोधित कर रहे थे।  

उन्होंने कहा कि हर व्यक्ति राज्य सरकार द्वारा जारी की गई गाईडलाईन की अनुपालना करें तथा पुलिस-प्रशासन को सख्ती अपनाने के लिए मजबूर न करें।

इस दौरान सीएमएचओ डॉ. दिनेश खराड़ी, पर्यटन उपनिदेशक शिखा सक्सेना, परिवहन अधिकारी डॉ. कल्पना शर्मा व संबंधित अधिकारी-कर्मचारी मौजूद थे।

…….

कलक्टर ने पार्षदों और व्यापारी संघों से मांगा सहयोग

कलक्टर चेतन देवड़ा ने कहा कोरोना के पलटवार से बचने के लिए हम सभी को एक बार फिर लोगों को जागरूक करना होगा। इसमें पार्षदों की महत्त्वपूर्ण भूमिका है।

पार्षद पढ़ाएंगे कोरोना प्रोटोकॉल का पाठ

बैठक के दौरान पार्षदों ने जिला प्रशासन के साथ मिलकर कोरोना प्रोटोकॉल की पालना करवाने का संकल्प दोहराते हुए अपने-अपने वार्ड में मास्क बांटने और कोरोना प्रोटोकॉल की पालना करवाने में सहयोग का आश्वासन दिया।

नगर निगम के सभी स्थान टीकाकरण और सैम्पलिंग के लिए उपलब्ध: मेयर

बैठक के दौरान पार्षदों ने कोरोना सैम्पलिंग और टीकाकरण शिविर बढ़ाने का सुझाव दिया। इस पर मेयर जी.एस. टांक ने कहा कि नगर निगम की सभी इमारतों को कोरोना टीकाकरण और सैम्पलिंग शिविर लगाने के लिए उपयोग में लिया जा सकता है।

…….

व्यापार संघों के प्रतिनिधियों और फल-सब्जी व्यापारियों के साथ प्रशासन की बैठक
एक स्वर में बोले व्यापारी- प्रशासन बरतें सख्ती, हम आपके साथ है

जिला प्रशासन ने शुक्रवार को जिला परिषद सभागार में विभिन्न व्यापार संघों, फल-सब्जी व्यापारियों, शॉपिंग मॉल्स, कृषि मण्डी, सरस डेयरी के प्रतिनिधियों के साथ बैठक कर कोरोना वायरस से बचाव और टीकाकरण के प्रति जागरुकता लाने पर चर्चा की।

बैठक में एडीएम प्रशासन ओ.पी. बुनकर और एडिशनल एसपी गोपाल स्वरूप मेवाड़ा ने व्यापारी वर्ग के सुझावों को ध्यान से सुना और प्रशासन का पक्ष रखते हुए कोरोना प्रोटोकॉल की पालना करवाने में व्यापारी वर्ग से सहयोग की अपील की।

सख्ती पर हुए सभी सहमत

एडीएम बुनकर ने कोरोना के बढ़ते संक्रमण की वजह से उत्पन्न हो रहे संकट की ओर ध्यान दिलाते हुए दुकानों और अन्य व्यवसायिक प्रतिष्ठानों पर सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क पहनने के प्रति पूरी सख्ती बरतने की बात कही। इस पर सभी व्यापारी संघों के प्रतिनिधियों ने प्रशासन का पूर्ण सहयोग करने की बात कही।

…….

पुलिसकर्मी बरतेंगे पूरी संवदेनशीलता

एडिशनल एसपी गोपाल स्वरूप मेवाड़ा ने कहा कि कोई भी नहीं चाहता कि लॉकडाउन फिर से लगे। हम सब एक बार उस स्थिति से गुजर चुके हैं। यही वजह है कि हम सभी कोरोना संक्रमण से बचने के लिए जनता को जागरूक कर रहे हैं। एडिशनल एसपी मेवाड़ा ने सभी व्यापार संघों के प्रतिनिधियों के सहयोग की सराहना करते हुए भरोसा दिलाया कि पुलिसकर्मी कोरोना प्रोटोकॉल की पालना करवाने में पूरी संवेदनशीलता के साथ काम करेंगे।

…….

पीपीई किट पहनकर किया जागरूक

उदयपुर इलेक्ट्रिक एसोसिएशन के रूपेश पारीक बैठक में पीपीई किट जैसे वस्त्र पहनकर आए। इस पर सामने की तरफ ‘मास्क या पीपीई किट, पसंद आपकी’ तथा पिछली ओर ‘अनुशासन या लॉकडाउन, पसंद आपकी’ स्लोगन लिखे थे। पारीक ने बताया कि जनता को कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे के प्रति जागरूक करने के लिए उन्होंने यह प्रयोग किया।

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *