कलक्टर ने यूआईटी के प्रस्तावित विकास कार्यों का किया निरीक्षण

 कलक्टर ने यूआईटी के प्रस्तावित विकास कार्यों का किया निरीक्षण
  • बनेगी आयड़ पुलिया से सुभाषनगर की प्रस्तावित सड़क
  • सेक्टर 3 संकड़ी पुलिया पर बनेगा हाईलेवल ब्रीज
  • जोगी तालाब पर बनेगा रींग रोड

जिला कलक्टर व यूआईटी अध्यक्ष अरविंद पोसवाल गुरुवार को शहर के दौरे पर रहे। इस दौरान उन्होंने यूआईटी के विभिन्न विकास कार्यों का जायजा लिया वहीं प्रस्तावित नवीन परियोजनाओं के संबंध में मौका मुआयना करते हुए जानकारी ली और महत्वपूर्ण निर्णय लेते हुए इनके सफल क्रियान्वयन के लिए निर्देश दिए।

बनेगी आयड़ पुलिया से सुभाषनगर की प्रस्तावित सड़क :  
कलक्टर पोसवाल ने अपने दौरे का आगाज 60 फ़ीट लेकसिटी मॉल रोड़ के निरीक्षण के साथ किया। अपराह्न में यहां पहुंचे कलक्टर ने विभागीय अधिकारियों से इस सड़क के निर्माण के बारे में जानकारी ली और इसमें आ रहे अवरोधों के बारे में पूछा।

अधिकारियों ने बताया कि आयड़ पुलिया से सुभाष नगर को जोड़ने वाली कुल 750 मीटर इस सड़क को पूरा करने के लिए 2-3 खातेदारों की लगभग 400 मीटर भूमि व उनके निर्माण कार्य यदि समझाईश से हटवा दिए जाते हैं तो यहां का यातायात सुगम हो पाएगा।

कलक्टर ने इस संबंध में संपूर्ण 400 फीट भाग का मौका मुआयना किया और इस सड़क को पूर्ण करने के लिए अधिकारियों को आवश्यक कार्यवाही के निर्देश दिए। इस दौरान यूआईटी सचिव नितेंद्रपाल सिंह और अतिरिक्त मुख्य अभियंता संजीव शर्मा ने कलक्टर को तथ्यात्मक जानकारी के साथ मौका मुआयना करवाया।  

संकड़ी पुलिया पर बनेगा हाईलेवल ब्रीज :
निरीक्षण दौरान कलक्टर ने हिरण मगरी सेक्टर 3 को राणाप्रतापनगर से जोड़ने वाली एफसीआई पुलिया का भी निरीक्षण किया। यहां अधिकारियों ने बताया कि पुलिया के दोनों तरफ 100-100 फीट रोड़ बना हुआ है और यहां पर वाहनों के आवागमन में परेशानी होती है।

इस पर कलक्टर ने मौका स्थिति देखते हुए यहां पर फोर लेन सड़क के उपयुक्त हाईलेवल ब्रीज की डीपीआर तैयार करने और इसकी निविदा अनुमोदन कार्यवाही के निर्देश दिए।

इसी प्रकार कलक्टर पोसवाल ने पारस तिराहा फ्लाई ओवर स्थल का भी मौका मुआयना किया। कलक्टर ने यहां पर यातायात प्रवाह के बारे में जानकारी ली और यहां के लिए भी डीपीआर को अंतिम रूप देने के निर्देश दिए।

310 लाख के निर्माणाधीन कम्युनिटी सेंटर का किया निरीक्षण :

कलक्टर पोसवाल ने दक्षिण विस्तार योजना में 17 हज़ार 700 स्क्वायर फिट में बनवाएं जा रहे विशाल कम्युनिटी सेंटर का निरीक्षण किया। अधिकारियों ने जब बताया कि इसमें 7 कमरे बनाएं जा रहे हैं तो कलक्टर ने 7 कमरों को अपर्याप्त बताया और इसके अधिकाधिक उपयोग की दृष्टि से कम से कम 20-25 कमरों के निर्माण के निर्देश दिए। उन्होंने भवन के गुणवत्तायुक्त निर्माण के निर्देश देते हुए उपरी तल के लिए 2 लिफ्ट का प्रावधान, पार्किंग सुविधा का विकास करने, रोड़ फैसिलिटी विकास करने को भी कहा।


जोगी तालाब पर रींग रोड के प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश :

यूआईटी विकास कार्यों और प्रस्तावित योजनाओं के निरीक्षण की श्रृंखला में कलक्टर पोसवाल जोगी तालाब भी पहुंचे और उन्होंने यहां पर विकास कार्यों को देखा। उन्होंने तालाब के चारों तरफ रिंग रोड़ तैयार करने के प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश देते हुए कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि तालाब में जल आवक मार्ग इससे बाधित न हो।


कलक्टर ने समझी दक्षिण विस्तार योजना :

अपने निरीक्षण दौरान कलक्टर पोसवाल दक्षिण विस्तार योजना पहुंचे और यहां पर दक्षिण विस्तार योजना के बारे में विस्तार से समझा। उन्होंने यहां पर यूआईटी द्वारा निर्मित आवास गृह, निर्माणाधीन सड़क के साथ भावी विकास योजनाओं के बारे में मौका स्थिति का अवलोकन किया। निरीक्षण के दौरान यूआईटी सचिव नितेन्द्रपाल सिंह, अतिरिक्त मुख्य अभियंता संजीव शर्मा, ओएसडी सावन चायल, अधीक्षण अभियंता अनित माथुर, अधिशासी अभियंता हितेश सुखवाल व सुरेश जैन सहित यूआईटी के अन्य संबंधित अधिकारियों ने विभिन्न स्थानों पर कलक्टर को आवश्यक तथ्यात्मक जानकारी मुहैया करवाई।

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *