Digiqole Ad Digiqole Ad

उदयपुर कलक्टर ने दिए निर्देश: आम जनता की परिवेदनाओं को संवेदनशीलता के साथ सुन जल्द निराकरण करें

 उदयपुर कलक्टर ने दिए निर्देश: आम जनता की परिवेदनाओं को संवेदनशीलता के साथ सुन जल्द निराकरण करें

जिला कलक्टर ताराचंद मीणा ने आज जिला जन अभियोग एवं निराकरण समिति व सतर्कता समिति की बैठक से पूर्व जिला स्तरीय जनसुनवाई में आम जनता की परिवेदनाओं को पूरी संवेदनशीलता के साथ सुन और उनका जल्द से जल्द निराकरण के निर्देश दिए.

कलक्टर ने सतर्कता समिति में पूर्व में दर्ज 26 प्रकरणों पर भी चर्चा कर निर्देश दिए। इसी प्रकार जनसुनवाई में वीसी से जुड़े कुछ ब्लॉक स्तरीय अधिकारियों के एक्टिव नहीं होने पर कलक्टर ने नाराजगी जताई और जनसमस्याओं के निराकरण की दृष्टि से जनसुनवाई में सक्रिय रहने के निर्देश दिए।

बैठक दौरान एडीएम अशोक कुमार व ओ.पी.बुनकर, जिला परिषद सीईओ मयंक मनीष, यूआईटी सचिव अरुण हसीजा, नगर निगम आयुक्त हिम्मत सिंह बारहठ, गिर्वा एसडीओ सलोनी खेमका सहित समस्त विभागीय अधिकारी मौजूद थे।

मैं खुद मौका देखूंगा:

जनसुनवाई में कलक्टर मीणा ने एक परिवादी ने अपनी कॉलोनी में पेयजल संबंधित समस्या के लिए कम से कम 25 बार आने की बात कहते हुए समस्या के बारे में विस्तार से बताया तो कलक्टर ने यूआईटी और पीएचईडी के अधिकारियों से जानकारी लेने के बाद कहा कि कल सुबह मैं खुद आपकी कॉलोनी में आउंगा और मौका देखकर समस्या का समाधान करूंगा ताकि आपको 26वीं बार यहां न आना पड़े। जनसमस्या के निराकरण के लिए कलक्टर की प्रतिबद्धता को देखकर परिवादी भी खुश हुए।

हटाए गए अतिक्रमण को पुनः करने पर जताई नाराजगी:

कलक्टर मीणा ने मावली क्षेत्र के एक प्रकरण में राजस्व अधिकारियों द्वारा अतिक्रमण हटाने के बाद पुनः अतिक्रमण कर लेने के मामले पर नाराजगी जताई और कहा कि ऐसे दुस्साहसी व्यक्तियों के विरूद्ध सख्त कार्यवाही करें और 151 में बंद करना पड़े तो भी करो ताकि अन्य व्यक्ति ऐसा न करें।

अनियमितता पर ईमित्रों के विरुद्ध एफआईआर दर्ज करो:
जनसुनवाई में एक अनियमितता के दोषी एक ईमित्र को हटा दिए जाने के प्रकरण पर कलक्टर ने जानकारी ली और सूचना एवं प्रौद्योगिकी विभाग की उपनिदेशक को निर्देश दिए कि जांच में दोषी पाए जाने पर ईमित्र को हटाने के साथ ही उसके विरुद्ध प्रकरण दर्ज कर कानूनी कार्यवाही भी की जावे।

पेयजल स्रोतों में गंदा पानी न जावें:
कलक्टर मीणा ने अपनी मेनार यात्रा दौरान जलाशयों में गंदा पानी बहाए जाने की स्थितियां पाए जाने पर समस्त अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे यह देखें कि पेयजल के किसी भी स्रोत में गंदा पानी न जावें।  

कार्यवाही आज शाम को ही बताना:
जनसुनवाई दौरान कलक्टर मीणा ने विभागीय अधिकारियों को शिकायत, समस्या के निराकरण के निर्देश के साथ हर बार यह अवश्य कहा कि इस परिवेदना पर जो कार्यवाही करो उसकी जानकारी मुझे आज शाम को ही देना।

भांति-भांति की समस्याएं, भांति-भांति के निर्देश:
कलक्टर मीणा ने जनसुनवाई दौरान पारिवारिक पेंशन शुरू न होने के एक मामले में जहां पेंशन विभाग के निदेशक से बात करने को आश्वस्त किया वहीं पेंशन-ग्रेच्युटी नहीं मिलने के प्रकरण में कोषाधिकारी से प्रकरण की जांच कराने के निर्देश दिए। इसी प्रकार सवीना में 2014 में लगे मोबाइल टावर के प्रकरण में कलक्टर ने जांच कर अनधिकृत होने पर सीज करने के निर्देश दिए वहीं कृष्णा विहार कॉलोनी में लगाए जा रहे टावर के संबंध में जांच कर कार्यवाही को कहा। कलक्टर ने कई शैक्षणिक संस्थाओं द्वारा फीस नहीं भरने के कारण अंकतालिका व टीसी नहीं देने के मामलों में भी जांच कर नियमानुसार कार्यवाही को कहा।

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *