2 करोड़ रुपए में दीपावली पर दुल्हन सी सजेगी झीलों की नगरी, पूरे शहर में होगी लाइटिंग

 2 करोड़ रुपए में दीपावली पर दुल्हन सी सजेगी झीलों की नगरी, पूरे शहर में होगी लाइटिंग

उदयपुर. दीपावली पर्व पर उदयपुर में पर्यटन एवं व्यापारिक गतिविधियों को नए आयाम देने की मंशा से जिला प्रशासन ने पहल करते हुए पूरे शहर को दुधिया रोशनी से सजाने का निर्णय लिया है। उदयपुर विकास प्राधिकरण एवं नगर निगम ने दो माह पूर्व ही इसकी तैयारियां शुरू करते हुए समय पर टेण्डर आदि की प्रक्रिया कर ली।

इन दिनों सजावट का कार्य जोर शोर से शुरू भी हो चुका है। प्रति वर्ष जहां दीपावली सजावट एवं सौंदर्यीकरण पर 15 से 20 लाख रूपए खर्च होते थे, वहीं इस बार तकरीबन 2 करोड़ रूपए का बजट प्रस्तावित किया गया है। 

आमतौर पर प्रति वर्ष दीपावली पर नगर निकाय चिन्हित स्थलों पर विद्युत सजावट करता आया हैं, वहीं व्यापारिक संगठन अपने स्तर पर सजावट करते हैं। इसमें शहर के कई महत्वपूर्ण स्थल दीपावली पर अंधेरे में खोए रहते थे। 

जिला प्रशासन ने इस बार उन सभी स्थलों को भी आकर्षक ढंग से सजाने की पहल की। प्रमुख चौराहों पर की जाने वाली जगमगाहट के अलावा अनुमानित रूप से पूरे शहर में करीब 15 से 20 किलोमीटर लंबाई में दिवाली लाइटिंग की जानी है।

बुधवार को जिला कलक्टर अरविन्द पोसवाल ने बैठक लेकर तैयारियों की समीक्षा करते हुए नगर निगम और उदयपुर विकास प्राधिकरण के अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। 

उन्होंने बताया कि इस बार दीपावली पर 9 नवम्बर से 15 नवम्बर तक (एक सप्ताह) पूरे शहर को जगमग किया जाएगा। पूरे शहर में एक जैसी थीम पर सजावट की जा रही है। इससे स्थानीय नागरिकों में भी प्रकाश पर्व दीपावली को लेकर उत्साह बढ़ेगा। 

वहीं दीपावली अवकाश के दौरान विदेशों से और खास कर गुजरात से आने वाले पर्यटक भी सकारात्मक संदेश लेकर जाएंगे। पर्यटकों की आवक बढ़ने से स्थानीय व्यापारियों को भी संबल मिलेगा। 

उन्होंने बैठक में अब तक की तैयारियों की जानकारी लेते हुए सभी प्रमुख मार्गों, चौराहों, झील व घाटों को लाइटिंग के साथ-साथ रंगबिरंगी फर्रियों से सजाने के भी निर्देश दिए।

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *