सीडीपी द्वारा हिंदुस्तान जिंक को जलवायु और जल परिवर्तन के लिए ‘ए‘- रेटिंग

 सीडीपी द्वारा हिंदुस्तान जिंक को जलवायु और जल परिवर्तन के लिए ‘ए‘- रेटिंग

वेदांता समूह की कंपनी हिन्दुस्तान जिंक को जलवायु और जल परिवर्तन से कुशल प्रबंधन के लिए वैश्विक पर्यावरण गैर-लाभकारी सीडीपी द्वारा क्लाइमेट चेंज और वाॅटर सिक्योरिटी श्रेणी में लीडरशिप बैंड के साथ ‘ए‘- रेटिंग दिया गया। रेटिंग नेट शून्य उत्सर्जन के अपने दृष्टिकोण को प्राप्त करने की दिशा में कंपनी की प्रतिबद्धता को दर्शाता है। यह कंपनी द्वारा किए गए स्थायी प्रयास जल, भूमि, वायु गुणवत्ता, जलवायु और जैव विविधता पर उनके प्रभाव को कम करने और इस हेतु किये गये प्रभावी प्रयासों की मान्यता है

एसबीटीआई द्वारा मान्य अपने लक्ष्यों के अनुरूप नेट जीरो उत्सर्जन को प्राप्त करने की दिशा में कंपनी के प्रयासों ने 2050 एवं उससे पहले डीकार्बोनाइजिंग की दिशा में महत्वपूर्ण पहल की है। भूमिगत खदान में बैटरी इलेक्ट्रिक वाहन, बीईवी और परिवहन में एलएनजी वाहन का संचालन, पंतनगर मेटल प्लांट को 100 प्रतिशत हरित ऊर्जा से संचालित करना, 60 एमएलडी सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट और उपयोग जैसी पहल के माध्यम से जल सकारात्मकता प्रबंधन सुनिश्चित करते हुए 450 मेगावाट की नवीकरणीय ऊर्जा सोर्सिंग को सुरक्षित करना सम्मिलित है। संचालन के लिए उपचारित जल, जीरो लिक्विड डिस्चार्ज संयंत्र और भूजल को रिचार्ज करने हेतु वर्षा जल संचयन सुविधाओं की स्थापना ने कंपनी की वैश्विक पहचान में योगदान दिया है।

सीडीपी की वार्षिक पर्यावरण प्रकटीकरण और स्कोरिंग प्रक्रिया, जिसे कॉर्पोरेट पर्यावरण पारदर्शिता की श्रेणी में सर्वश्रेष्ठ माना जाता है, ने हिंदुस्तान जिंक को उसके व्यापक प्रकटीकरण, जागरूकता और पर्यावरणीय जोखिमों के प्रबंधन के लिए मान्यता दी है। हिंदुस्तान जिंक अत्याधुनिक प्रौद्योगिकी और सस्टेनेबल संचालन का लाभ उठाते हुए हरित संचालन और पर्यावरण प्रबंधन के लिए समर्पित है। कंपनी धातु और खनन क्षेत्र की 238 कंपनियों के बीच एसएंडपी ग्लोबल कॉरपोरेट सस्टेनेबिलिटी असेसमेंट में 85 के उच्चतम सीएसए स्कोर के साथ विश्व स्तर पर अग्रणी है।

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *